Author: नई राहें

Posted on

Indians/Indian origins won Nobel Prize

नोबेल पुरस्कार की शुरुआत 1901 में हुई थी तथा अब तक कुल 904 लोगो को प्रदान किया जा चूका है, जिसमे 852 पुरुष एवं 52 महिलाये हैं। साथ ही साथ 1901 से 2018 तक कुल 24 संस्थाओं को भी नोबेल पुरस्कार प्रदान किया जा चूका है।

Posted on

Story behind starting of Nobel Prize

इस एक वाकया ने अल्फ्रेड नोबेल की ज़िन्दगी बदल दी। अल्फ्रेड नोबेल को ये मंजूर नहीं था की उन्हें लोग इस तरह से याद करें। उन्हें मानवता के विध्वंशक के रूप में याद किया जाना मंजूर नहीं था।  वो अपने बारे में लोगों के विचार सकारात्मक रखना चाहते थे और इसके लिए कुछ करना चाहते थे।

Posted on

जीवन में जो चाहो वो ना मिले तो क्या करोगे?

जीवन में जो चाहो वो ना मिले तो क्या करोगे? तुम घुट घुट कर जियोगे या फिर एक बार हीं मरोगे? जो चाहो वो ना मिले तो क्या ये हार है? अगर ऐसा सोचते हो तो ये सोच हीं बेकार है। ऐसा नहीं कोई जग में जिसे जो चाहा हो सब मिला हो। ऐसा कोई […]

Posted on

Great Inspirational Story from life of Neta Ji Subhash Chandra Bose

नेता जी सुभाष चंद्र बोस के कुछ प्रेरक प्रसंग एक समय था जब हिन्दुस्तान में आइ सी एस की परीक्षा सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा माना जाता था। आई सी एस की परीक्षा केवल असाधारण रूप से मेधावी छात्रों को हीं नसीब होता था नेता जी सुभाष चंद्र बोस के पिता जी की भी इच्छा थी कि […]

Posted on

व्यवसाय जगत की हस्ती नैना लाल किदवई

एक बार इन्होंने अपने कामयाबी के बारे में कहा था कि “मुझे खुद पर हमेशा विश्वास रहा है। फलस्वरूप मैं अपने उद्देश्यों में हमेशा कामयाब रही। आप को अपने सपनों को उद्देश्य के साथ जोड़ देना चाहिए। यहीं वजह है कि मैं अपने क्षेत्र में कामयाब रही। ”

Posted on

सपना जो हो ना सका अपना

मैनें भी देखा था एक सपना। जो हो ना सका मेरा अपना। तो क्या मैं जीना छोड़ दुं। मैं तो हर रोज विष पीता हूँ तो क्या अमृत मिले तो छोड़ दुं। जो मेरा नहीं था वो मेरा हो नहीं सका। जो तेरा नहीं था वो तेरा हो नहीं सका। जो तेरे लिए बना था […]